संघर्ष पर गीत

क्यों पराजय

राघवेंद्र शुक्ल

मूल्य और संघर्ष में

राघवेंद्र शुक्ल

अनाथ

गोपालशरण सिंह

आज की नियति से

देवेंद्र कुमार बंगाली

मुट्ठियाँ ताने हुए

देवेंद्र कुमार बंगाली
बोलिए