ज्ञान पर काव्य खंड

ज्ञान का महत्त्व सभी

युगों और संस्कृतियों में एकसमान रहा है। यहाँ प्रस्तुत है—ज्ञान, बोध, समझ और जानने के विभिन्न पर्यायों को प्रसंग में लातीं कविताओं का एक चयन।

भँवरगीत

नंददास

पाहुड़ दोहा-13

मुनि रामसिंह

पाहुड़ दोहा-9

मुनि रामसिंह

उद्धव-शतक

जगन्नाथदास रत्नाकर

पाहुड़ दोहा- 1

मुनि रामसिंह

पाहुड़ दोहा-12

मुनि रामसिंह

पाहुड़ दोहा-8

मुनि रामसिंह

पाहुड़ दोहा-6

मुनि रामसिंह

पाहुड़ दोहा-5

मुनि रामसिंह
बोलिए