बाढ़ पर कविताएँ

देश की विभिन्न नदियों

में साल-दर-साल आती बाढ़ जीवन, संपत्ति और आजीविका के संकट उत्पन्न करती हैं जिसे कविताओं में चिंता और सहानुभूति से देखा गया है। इस चयन में बाढ़ विषयक कविताओं का संकलन किया गया है।

सारी चीज़ें नहीं

कृष्णमोहन झा

बाढ़

दिनेश कुमार शुक्ल

बाढ़ के एक दृश्य में

अमिताभ चौधरी

आएगी बाढ़

समृद्धि मनचंदा

पानी में घिरे हुए लोग

केदारनाथ सिंह

बाढ़ के बाद

कृष्णमोहन झा