क़लम पर कविताएँ

पेंसिल

प्रमोद कुमार तिवारी

भूख और क़लम

कमल जीत चौधरी